13 Best Bhagat Singh Quotes in Hindi

Bhagat Singh Quotes in Hindi

शहीद भगत सिंह के नारे और स्लोगन की संख्या बहुत अधिक है। सभी स्लोगन प्रेरक और प्रसिद्ध है। यहाँ पर कुछ बहुत फेमस और चुनिन्दा स्लोगन दिए गए है।

1. “मेरा धर्म देश की सेवा करना है।” ~भगत सिंह

2. “जिंदगी तो सिर्फ अपने कंधों पर जी जाती है, दूसरों के कंधे पर तो सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं।“ ~ भगत सिंह

3. “देशभक्तों को अक्सर लोग पागल कहते हैं।“ ~ भगत सिंह

4. “राख का हर एक कण मेरी गर्मी से गतिमान है। मैं एक ऐसा पागल हूं जो जेल में भी आजाद है।“ ~ भगत सिंह

5. “किसी भी इंसान को मारना आसान है, परन्तु उसके विचारों को नहीं। महान साम्राज्य टूट जाते हैं, तबाह हो जाते हैं, जबकि उनके विचार बच जाते हैं।”~ भगत सिंह

6. “मैं एक मानव हूँ और जो कुछ भी मानवता को प्रभावित करता है उससे मुझे मतलब है।“ ~ भगत सिंह

7. “अपने दुश्मन से बहस करने के लिये उसका अभ्यास करना बहोत जरुरी है।”~ भगत सिंह

8. “इंसानों को कुचलकर आप उनके विचारो को नही मार सकते।”~ भगत सिंह

9. “दिल से निकलेगी न मरकर भी वतन की उल्फत, मेरी मिट्ठी से भी खूशबू-ए-वतन आएगी।“ ~ भगत सिंह

10. “बम और पिस्तौल क्रांति नहीं लाते हैं। क्रान्ति की तलवार विचारों के धार बढ़ाने वाले पत्थर पर रगड़ी जाती है।“ ~ भगत सिंह

11. “सिने पर जो ज़ख्म है, सब फूलों के गुच्छे हैं, हमें पागल ही रहने दो, हम पागल ही अच्छे हैं।“ ~ भगत सिंह

12. “लिख रह हूँ मैं अंजाम जिसका कल आगाज़ आएगा… मेरे लहू का हर एक कतरा इंकलाब लाएगा।“ ~ भगत सिंह

13. “यदि बहरों को सुनाना है तो आवाज़ को बहुत जोरदार होना होगा।“ ~ भगत सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *